Monday, May 21, 2012

आईपीएल: लव, सेक्‍स, और धोखे का खेल।



आईपीएल यानी क्रिकेट, कैश और कंट्रोवर्सी का कॉकटेल। पर इस बार इसमें लव, सेक्‍स, धोखा का पुट हावी 
होता नजर आ रहा है। मुंबई में एक रेव पार्टी से कथित रूप से आईपील के दो खिलाडियों के पकड़े जाने और चार के फरार हो जाने का मामला विवादों की कड़ी में सबसे ताजा है। आईपीएल पार्टियों और यहां तक कि मैच के दौरान स्‍टेडियमों में भी शराब पीने का मामला तो आम है, लेकिन पिछले सप्‍ताह पार्टी के बाद एक लड़की के साथ छेड़खानी का मामला भी सामने आया।   
यह क्रिकेट से प्रेम करने वालों के साथ भले ही सबसे बड़ा धोखा हो, लेकिन खिलाडि़यों और फ्रेंचाइजी का पैसे, मस्‍ती, रसूख से किसी भी कीमत पर प्रेम निभाने का 'जुनून' ही दिखाता है।  
इस बार के आईपीएल मैचों की टीआरपी रेटिंग भले ही गिरी हो, लेकिन विवादों के चलते आईपीएल लगातार सुर्खियों में बना हुआ है। विवादों के बीच मैच खेलते हुए दिल्‍ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्‍नई की टीमें प्‍लेऑफ में पहुंच चुकी हैं। खास बात यह है कि सबसे ज्‍यादा विवाद भी इन्‍हीं टीमों (चेन्‍नई को छोड़ कर) के खिलाडियों या फ्रेंचाइजी के चलते हुआ है।
आईपीएल सीजन पांच जिन बड़े विवादों के चलते चर्चा में रहा, उन्‍हें देखते हुए अब आईपीएल पर बैन की मांग तेज हो गई है। नेताओं ने जोर-शोर से यह मुद्दा उठाया है। लालू प्रसाद यादव, कीर्ति आजाद, शिवराज सिंह चौहान आदि कई नेता खुले आम आईपीएल पर बैन के पक्ष में उठ खड़े हुए हैं। इस सीजन में आईपीएल से जुड़े कुछ बड़े विवादों पर एक नजर: 

फिक्सिंग


समाचार चैनल इंडिया टीवी के स्टिंग ऑपरेशन में आईपीएल से जुड़ा सनसनीखेज खुलासा करते हुए कई खिलाड़ियों को स्पाट फिक्सिंग में लिप्त दिखाया। इस स्टिंग ऑपरेशन में मनीष पांडे, मोहनीश मिश्रा, मनविंदरबिसला ने तय स्लैब से अधिक पैसे लिए। ऐसा करना बीसीसीआई नियमों का उल्लंघन है। इस स्टिंग ऑपरेशन में खिलाड़ी नो बाल फेंकने के लिए पैसे मांगते नजर आए। बीसीसीआई ने इन पांचों खिलाड़ियों को जांच पूरी होने तक निलंबित कर दिया है।    





शाहरुख का हंगामा

कोलकाता नाइटराइडर्स के मालिक और मशहूर बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान पर मुंबई के वानखेडे स्टेडियम शराब पीकर हंगामा करने और सुरक्षाकर्मियों को गालियां और धमकियां देने का आरोप लगा। इन आरोपों के बाद महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने शाहरुख खान पर वानखेडे में घुंसने पर पांच साल का प्रतिबंध लगा दिया।  


आईपीएल खिलाड़ी पर छेड़छाड़ के आरोप  


रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के आस्ट्रेलियन खिलाड़ी ल्यूक पॉमर्शबैक पर एक अमेरिकी युवती ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। जोहल हामिद नाम की अमेरिकी युवती का आरोप है कि दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में आईपीएल पार्टी के बाद ल्यूक पॉमर्शबैक ने उसके साथ छेड़छाड़ की और उसके मंगेतर की पिटाई की। ल्यूक पर छेड़खानी के आरोप लगे और उसे दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार भी किया। फिलहला मामला अदालत में हैं। ल्यूक को इस मामले में जमानत मिल गई है। छेड़खानी के इस मामले में एक नया विवाद आरसीबी के मालिक सिद्धार्थ माल्या के एक ट्वीट से खड़ा हुआ।   सिद्धार्थ माल्या के एक ट्वीट से जोहल के चरित्र पर सवाल खड़े हुए थे। इस ट्वीट को लेकर भी जोहल ने सिद्धार्थ माल्या के खिलाफ दिल्ली महिला आयोग में शिकायत दर्ज कराई है। इसी बीच  जोहल के कथित मंगेतर ने उसे अपनी गर्लफ्रैंड बताया है और एक अमेरिकी नागरिक ने जोहल के तार  आर्म्स  डीलर अभिषेक वर्मा से जोड़ दिए हैं। जोहल का राज भी गहरा रहा है
 
 रेव पार्टी में आईपीएल खिलाड़ी  

आईपीएल का सबसे ताजा विवाद मुंबई में एक रेव पार्टी में दो आईपीएल खिलाड़ियों के पकडे जाने का है। मुंबई में जुहू स्थित ओकवुड होटल में चल रहे हाई प्रोफाइल रेव पार्टी में प्रतिबंधित नशीले पदार्थ के सेवन के आरोप में आईपीएल के दो खिलाड़ी व्यान पर्नेल और राहुल शर्मा पकड़े गए हैं। ये दोनों खिलाड़ी पुणे वारियर्स के हैं। चार आईपीएल खिलाड़ी पुलिस के छापा पड़ने के बाद मौके से फरार हो गए।

पुण्यतिथि:राजीव गाँधी,कुछ यादें जेहन में बाकी है


एक  नमन  राजीव  जी  को  आज उनकी पुण्यतिथि के  अवसर पर.राजीव जी बचपन से हमारे प्रिय नेता रहे आज भी याद है कि इंदिरा जी के निधन के समय हम सभी कैसे चाह रहे थे कि राजीव जी आयें और प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठ जाएँ क्योंकि ये बच्चों की समझ थी कि जो जल्दी से आकर कुर्सी पर बैठ जायेगा वही प्रधानमंत्री हो जायेगा.तब हमारे दिमाग की क्या कहें वह तो उनके व्यक्तित्व पर ही मोहित था जो एक शायर के शब्दों में यूँ था-

                    ''लताफत राजीव गाँधी,नफासत राजीव गाँधी ,
                     थे सिर से कदम तक एक शराफत राजीव गाँधी ,
                     नज़र आते थे कितने खूबसूरत राजीव गाँधी.''

राजीव जी का  जन्म २० अगस्त १९४४ को हुआ था और राजनीति से कोसों दूर रहने वाले राजीव जी अपनी माता श्रीमती इंदिरा जी के  कारण राजनीति में  आये और देश को पंचायत राज और युवा मताधिकार जैसे उपहार उन्होंने दिए .आज  उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर मैं उन्हें याद करने से स्वयं को नही रोक पाई किन्तु जानती हूँ कि राजीव जी भी राजनीति में आने के कारण बोफोर्स जैसे मुद्दे में बदनामी अपने माथे पर लगाये २१ मई १९९१  को एक आत्मघाती हमले का शिकार होकर हम सभी को छोड़ गए आज भी याद है वह रात जब १०.२० मिनट पर पापा कहीं बाहर से आकर खाना खा रहे थे और  हम कैरम खेल रहे थे कि विविध भारती  का  कार्यक्रम छाया गीत बीच में  बंद हुआ और जैसे ही एक उद्घोषक ने कहा ,''अखिल भारतीय कॉंग्रेस कमेटी के अध्यक्ष....''और इससे पहले कि वह कुछ बोलता कि पापा बोले कि राजीव गाँधी की हत्या हो गयी हम चीख कर पापा से क्या लड़ते क्योंकि अगले पल ही यह समाचार उद्घोषक बोल रहा था और हमारा राजनीति  से सम्बन्ध तोड़ रहा था राजीव जी के साथ हमने राजनीति में रूचि को भी खो दिया बस रह गयी उनकी यादें जो हम आज यहाँ आप सभी से शेयर  कर रहे हैं हालाँकि जानते हैं कि ब्लॉग जगत में अधिकांश उनके खिलाफ हैं किन्तु हम जिनसे आज तक  जुड़े हैं वे राजीव जी ही थे और वे ही रहेंगे.

श्रीमती मुमताज़ मिर्ज़ा के शब्दों में -
''रहबर गया,रफीक गया,हमसफ़र गया,
राजीव पूरी कौम को मगमून कर गया.
सदियाँ भुला सकेंगी न उसके कमाल को,
राजीव चंद सालों में वो काम कर गया.''


शालिनी कौशिक
                      

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...