Friday, November 25, 2011

अभिज्ञात: सुपर ब्लास्ट

अभिज्ञात: सुपर ब्लास्ट: कहानी साभारःकथादेश, नवम्बर 2011 दुनिया भर में दिमागी तनाव से मरने वालों की संख्या में लगातार इज़ाफा हो रहा था। युवाओं और छात्रों में दिमागी...

मेरी कविताओं का संग्रह: माँ कुछ दिन तू और न जाती,

मेरी कविताओं का संग्रह: माँ कुछ दिन तू और न जाती,: माँ! कुछ दिन माँ! कुछ दिन तू और न जाती, मैं ही नहीं बहू भी कहती, कहते सारे पोते नाती, माँ! कुछ दिन तू और न जाती। रोज़ सबेरे मुझे जगाना,...

सारांश यहाँ आगे पढ़ें के आगे यहाँ

क्यों नेता थप्पड़ खा रहे है...


क्यों नेता थप्पड़ खा रहे है...?
क्यों नेता फट कारे जा रहे है?
क्यों गली गली दौडाए जाते
क्यों मंडप से भगाए जाते
क्यों नेता मान घटा रहे..है:?
क्यों नेता थप्पड़ खा रहे है...?
...................................................
नेताओं की कुछ गलती है...
जो भ्रष्टाचार मिलतीहै
मह्गायी का खूंटा टूट चुका है
लोगो का गुस्सा फूट चुका है
बेईमानी से लोगो का मन ऊब चुकाहै
अब नेता थप्पड़ खा रहे है
बीच सभा चिल्ला रहे है...

अभिज्ञात: अभिज्ञात ने कई विलक्षण कविताएं लिखी हैं-केदारनाथ स...

अभिज्ञात: अभिज्ञात ने कई विलक्षण कविताएं लिखी हैं-केदारनाथ स...: हिन्दी-बंगला के दो शीर्ष कवियों ने किया ‘ खुशी ठहरती है कितनी देर ’ का लोकार्पण कोलकाताः अभिज्ञात कविता में गद्य और गद्य में कविता का...

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...