Tuesday, December 20, 2011

अभिज्ञात: तुम्हारा साथ रहे तो नर्क तक की यात्रा भी सुखद रहेग...

अभिज्ञात: तुम्हारा साथ रहे तो नर्क तक की यात्रा भी सुखद रहेग...: अदम गोंडवी की मौत की खबर सदमा देने वाली है। उस मनहूस सुबह यह खबर मुझे सबसे पहले जयपुर से लेखक-पत्रकार मित्र चंडीदत्त शुक्ल ने दी। जिस सांकेत...

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...