Friday, June 10, 2011



वर्तमान काल के सभी प्रकार के वाक्‍यों की संस्‍कृत में निर्माण प्रक्रिया

बन्‍धुओं 
जैसा कि आप सब को पता ही है, आप का संस्‍कृतजगत् ब्‍लाग आप के लिए नित नये तथा सरल तरीके लाता रहता है संस्‍कृत सीखने के लिये    इसी क्रम में फिर हम लेकर आये हैं आपके लिये संस्‍कृत का सरलतम अनुवाद 
इस बार की प्रक्रिया थोडी सी लोक प्रचलित है ।  जिस तरह आप अंग्रेजी सीखते समय प्रत्‍येक काल के चार चार भाग, इनडिफनिट, कान्टिन्‍युअस, परफेक्‍ट व परफेक्‍ट कान्टिन्‍युअस सीखते हैं तथा प्रत्‍येक के पुन: चार चार भाग, साधारण, नकारात्‍मक, प्रश्‍नवाचक तथा प्रश्‍नवाचक नकारात्‍मक वाक्‍य सीखते हैं इसी क्रम पर आधारित नूतन संस्‍कृत प्रशिक्षण आरम्‍भ किया गया है   
बहुप्रचलित प्रक्रिया होने से इससे आपको संस्‍कृत सीखने में अत्‍यधिक आसानी होगी   
अबतक कुल मिलाकर वर्तमान काल के चारों प्रकार के वाक्‍यों की निर्माण प्रक्रिया बताई जा चुकी है   
इन्हे देखने के लिए आप निम्‍नोक्‍त श्रृंखलाओं (LINKS) पर नोदन (CLICK) कर सकते हैं   

वर्तमानकाल-साधारण वाक्‍य (PRESENTINDEFINITE)

वर्तमानकाल- प्रगतिशील वाक्‍य (PRESENTCONTINUOUS)

वर्तमानकाल-पूर्णकार्य (PRESENT PERFECT)

वर्तमानकाल-अर्धपूर्णप्रगतिशीलवाक्‍य(PRESENT PERFECT CONTINUOUS)

इन श्रृंखलाओं पर नोदन करके आप सरलरूप से संस्‍कृत के वाक्‍य बनाना सीख सकेंगे  । 
शीघ्र ही भूतकाल व भविष्‍यकाल के वाक्‍यों की निर्माण प्रक्रिया प्रदर्शित की जाएगी  ।  इन पाठों की आप तलपूर्ति (डाउनलोड) भी कर सकते हैं  । 
अग्रिम अध्‍यायों के प्रकाशन के पूर्व ही कृपया इन पाठों का पूरा अभ्‍यास करें  ।  जहाँ सहायता की आवश्‍यकता हो,  संस्‍कृतजगत् के अधिकारियों में से किसी से भी संपर्क करें  ।  आपकी विधिवत सहायता की जाएगी  । 
यदि त्‍वरावशात् इन पाठों में किसी प्रकार की गलती रह गई हो तो कृपया सूचित करें जिससे उसमें सत्‍वर सुधार किया जा सके  । 

आपका धन्‍यवाद
संस्‍कृतजगत् 




No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...