Tuesday, April 12, 2011

नरेंद्र मोदी ने किया अन्ना हजारे को आगाह, मेरी प्रशंसा के बाद निंदा के लिए रहें तैयार

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजसेवी अन्ना हजारे को एक पत्र लिखकर उनकी  (नरेंद्र मोदी) तारीफ करने पर धन्यवाद दिया है, लेकिन साथ ही आगाह किया है कि अब गुजरात का अहित करने वाला समूह आपको निशाना बना सकता है। इधर अन्ना ने अपने पूर्व के बयान पर कहा है कि उनका किसी पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। वे विकास की तारीफ करते हैं लेकिन सांप्रदायिकता के खिलाफ हैं।

मोदी ने अपने पत्र में हजारे को लिखा है गुजरात का लगातार विरोध करने वाले कुछ लोग इस अवसर को अपने हाथ से नहीं जाने देंगे। उन्होंने लिखा है,  कल मैंने मुझे और मेरे राज्य को दिए आपके आशीर्वाद के बारे में सुना। मुझे डर है कि अब आपके खिलाफ निंदा अभियान शुरू हो जाएगा। गुजरात के नाम से ही चिढ़ जाने वाला एक खास समूह आपके प्यार, बलिदान, तपस्या और सच के प्रति समर्पण पर कालिख पोतने का मौका नहीं छोड़ेगा। वे आपकी छवि खराब करने की पूरी कोशिश करेंगे, सिर्फ इसलिए कि आपने मेरे और मेरे राज्य के बारे में कुछ अच्छा कहा।

मोदी ने खत में अमिताभ बच्चन से लेकर गुलाम वास्तनवी तक कई उदाहरण देते हुए कहा है कि आपको पता होगा जो भी गुजरात के बारे में कुछ अच्छा बोलता है उसके खिलाफ अभियान छेड़ दिया जाता है।

इधर अन्ना हजारे ने नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी पर दिए गए अपने बयान पर सफाई दी है। अन्ना ने कहा है कि उनका किसी भी राजनीतिक पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। अन्ना ने कहा कि वे विकास की तारीफ करते हैं लेकिन सांप्रदायिकता के खिलाफ हैं।

गौरतलब है कि अन्ना ने केंद्रीय मंत्री शरद पवार पर निशाना साधते हुए कहा था कि उन्हें पर्दे के पीछे का खेल अच्छी तरह आता है और वे राजनीति करना अच्छी तरह जानते हैं। जबकि अन्ना ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा था कि देश को आज इनके जैसे अच्छे नेता चाहिए जो अपने राज्य को विकास के पथ पर ले जा सकें।

आपका मत

क्या आप मानते हैं कि एक समूह लगातार बेवजह गुजरात और मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बना रहा है? लेकिन क्या मोदी पर सांप्रदायिकता का ठप्पा गलत लगा है? इन मुद्दों पर आप भी दे सकते हैं अपनी राय।

1 comment:

  1. certainly ....modi is great. his attitude is deserving everyr support from every indian. Only those are Jahr ugle rahey hain jo vastav me desh drohi hain..bhrsta hain .. wah chahey kisi pary ke hon chahey kisi jati smpraday ke ho. Modo muslimo ki bhi utna hi pyar karte hain jitna hindu ko ..haannn gaddoron ko nahi .

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...