Sunday, March 6, 2011

जय हो ! [भाग -१ ]

८ मार्च को हम सभी ''अंतर-राष्ट्रीय महिला दिवस '' मनातें है .आज ब्लॉग -जगत में हमारी महिला चिठ्ठाकार जिस प्रकार से अपनी लेखन क्षमता 
का परिचय देते हुए 
हुए अपना लोहा मनवा रही हैं -उसकी तारीफ में बस एक ही भाव मन में उमड़ आता है -''जय हो ''.
              इसी भाव को लेकर मैंने यह पोस्ट तैयार की है
आशा है आप सभी इसकी  दिल से सराहना करेंगे .----


 ''आओ करें ''vandana '' हम उस ''devi'' की ;
''जिसकी ''nutan'' दीप ''shikha'' ने जग चमकाया ,
''mamta''मय''''preeti''मय प्रभु की इस ''rachna'' ने ;
 अपनी अद्भुत ''pratibha'' का लोहा मनवाया .''


''sharad'' 'shashi' की 'rashmi' से शीतलता फैली ;
'poonam' की 'rajani' आई सज नई-नवेली ,
अच्छे लेखों से ज्ञान की ''rekha''खीची'' ;
sundar 'kavita' से भावों की क्यारी सीचे ;
''harkirat'' की 'kiran  ' से भर  गया ''amar'' उजाला .
अपनी अद्भुत प्रतिभा   का लोहा मनवाया .''
[लिंक में दिए गए नामों पर जाकर महिला चिट्ठाकारों का उत्साहवर्धन करें क्योंकि ये सभी नाम महिला चिट्ठाकारों के हैं]
लेखिका-शिखा कौशिक[http://vicharonkachabootra.blogspot.com/]
सहायिका-शालिनी कौशिक[http://shalinikaushik2.blogspot.com/]
                         [जारी.........]

                      

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...