Sunday, January 30, 2011

आपके सहयोग से मेरी पोस्टें हुई दो हजार पार ......

Saturday, January 29, 2011

मेरे दोस्तों मेरे भाइयों मेरे ब्लोगर्स परिवार के लोगों
आज में अपनी पोस्टों की गिनती करने लगा तो
पता चला इनकी संख्या दो हजार के पार हो गयी हे ।
दोस्तों मार्च २०१० से शुरू मेरा यह सफर आज ३० दिसम्बर
शहीद दिवस पर २००० पोस्टें पार कर जाएगा यह मेने सोचा भी नही था
लेकिन लिखने का एक जूनून था और में बिना किसी
टिप्पणी के इन्तिज़ार में लिखे जा रहा था लिखे जा रहा था
कई बार मुझे वक्त ने , मजबूरी ने ,टिप्पणी चाहने के लालच ने
इंटरनेट की तकनीकी खराबी ने
ब्लोगिंग टिप्स की जानकारी के अभाव ने मुझे इस
अभियान से रोकने की कोशिश के दोस्तों में ठिठका तो सही
टिप्पणी के लालच में भटका तो सही लेकिन फिर अपने लक्ष्य के लियें
अपने कम को आगे बढाने के लियें डट गया और काम शुरू कर दिया
मुझे मेरे एक ब्लोगर मित्र ने फॉर कर बधाई दी के भाई अब तो बस करो
तुम ब्लोगिंग की दुनिया में सबसे तेज़ लिखने वाले और अल्प समय मार्च २०१० से केवल नो माह में
२००० पोस्टों से अधिक लिखने वाले पहले ब्लोगर बन गये हो मुझे यकीन नहीं आया मेने अपनी पोस्टें गिनी तो
सच मेरी पोस्टों की गिनती २००० पोस्टों के पार थी ,
दोस्तों मेरे इस जीरो पोस्ट से २००० पोस्टों के इस सफर में
आप सब ब्लोगर भाइयों और बहनों का प्यार मार्ग दर्शन शामिल रहा हे
और आपके इस प्यार और मुझे भटकने पर मार्ग पर वापस लाने की सीख ने
मेरा सीना गर्व से ऊँचा कर दिया हे और इसीलियें कहता हूँ के मेरे इस ब्लोगिंग के सफर में
मेरे ब्लोगर भाइयों से जो मुलाक़ात हुई हे वोह एक यादगार हे कभी न भुलाने वाला प्यार हे
इसलियें कहता हूँ के जय ब्लोगिस्तान जय ब्लोगर यूनियन जय चोथा ब्लोगर स्तम्भ जिंदाबाद ।
अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

2 comments:

  1. बधाई हो..!!चिंतन कीजिये की क्या हम हिन्दी ब्लॉग्गिंग को वो दे पाए है जिनकी वो हकदार है?

    ReplyDelete
  2. बहुत बहुत बधाई.ये सफ़र yun ही सफलता की बुलंदियों को छूता रहे यही शुभकामना है......

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...