Monday, December 6, 2010

मीडिया ने कराया देश का टू जी स्पेक्ट्रम घोटाला

देश में डंके की चोट पर किया गया टू जी स्पेक्ट्रम घोटाला अकेले प्रधानमन्त्री या फिरपूर्व संचार मंत्री ऐ राजा ने नहीं किया हे इसमें देश का मिडिया भी बराबर का हिस्सेदार हे और देश के मिडिया का नाम इस मामले में प्रमुखता से उजागर होने पर देश के मीडिया की नंगी तस्वीर जनता के सामने खुल गयी हे ।
भरत में पत्रकार आज तक सम्मान के काम करने के लियें याद किया जाता रहा हे लेकिन उद्योगपतियों के इस पत्रकारिता में आजाने से इन लोगों ने पत्रकारिता को मिशन से हटा कर व्यवसाय बना दिया हे हालात यह हें के खबरें छापने नहीं छापने के रूपये खुले आम लिए जा रहे हें विज्ञापनों के नाम पर खुली ब्लेकमेलिंग हे जनता का आधे से ज्यादा रुपया भ्रष्ट सरकार द्वारा विज्ञापनों के नाम पर रिश्वत देकर बांटा जा रहा हे टू जी स्पेक्ट्रम घोटाले में ४५ मिनट में इस भ्रस्ताचार की जो कहानी जो सच देनिक भास्कर ने उजागर किया हे उससे तो लगता हे के जो मिडिया भ्रस्ताचार उजागर करने के लियें अपनी पहचान बनाये हुए हे वही मिडिया आज देश के सबसे बढ़े संचार घोटाले का मददगार बना हे और देश में एक सच जो कडवा सच हे सामने आ गया हे के देश के अधिकतम घोटाले के पीछे मिद्या हे जो या तो चुप होने की वजह से हे या फिर मिडिया के इस में शामिल होने के कारण भ्रस्ताचार हो रहा हे बात सच हे के अगर देश में मिडिया अपनी आधी ज़िम्मेदारी भी निभाए तो भ्रष्टाचार जद से खत्म हो जाएगा लेकिन मिडिया तो अब खुद को तीसरी शक्ति बनाने की कोशिशो में सभी मां मर्यादाएं भूल गया हे इसलिए ब्लोगर्स को ही अब देश को बचाने के लियें आगे आना होगा ताकि कुछ तो हो जो देश को बचाया जा सके । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

1 comment:

  1. AAJ HINNDUSTAN ME BRASTACHAR BAHUT BAD GAYA JAHA DEKHO BHA GHOTALE HO RAHE HAI COMANWELTH GAME ME GHOTALA OR AB 2G SPECTERM ME GHOTALA AISE HI GHOTALE HOTE RAHE TO ES DESH KA AAGE KYA HAAL HOGA

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...