Monday, December 20, 2010

शतको का शहंशाह

लिखना तो आज हम कुछ और चाह रहे थे पर हर तरफ सचिन सचिन के शोरे ने जैसे कुछ और लिखने ही नहीं दिया तो हमने भी अपना रुख सचिन की तरफ ही मोड़ लिया सोचा क्यों ना हम भी अपने देश के महानतम बल्लेबाज़ सचिन के लिए दो शब्द कह ही दे ! जिस तरह से वो अपने आप को इतिहास के पन्नो मै दर्ज करवाते जा रहे हैं  सच मै काबिले तारीफ है ! हम तो ये कहेंगे की अगर किसी  भी तरह का ठंग व् तकनिकी का संगम कही देखना हो तो वो सचिन की बल्लेबाज़ी मै मिलती है !
                                                                आज से 21 साल पहले सचिन ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ 88 रन बनाये थे जब वो लोट कर पवेलियन आ रहे थे तो उनकी आँखों मै आंसू थे !अपने करियर का पहले  शतक से चुक जाने का दर्द उनकी आँखों से साफ़ झलक रहा था ! उसी सचिन ने उस दर्द को अपने ज़ेहन मै एसे संजोया  की उसे ही अपनी हिम्मत बनाकर आगे का सफ़र जारी रखते हुए  टेस्ट क्रिकेट मै अपनी 50 वी सेंचुरी  दर्ज कर दी ! क्रिकेट के प्रति उनके बेइंतिहा  प्यार , सम्मान  और प्रशंसको के विश्वाश को बनाये रखने के ज़ज्बे ने उनके लक्ष्य तक पहुँचने के सफ़र को आसां बना दिया ! सचिन के चाहने वालो ने उन्हें क्रिकेट की दुनिया का भगवान  तक नाम दे दिया ! जनता का उनके प्रति प्यार , सम्मान , भरोसा और उनका साधारण व्यक्तित्व जनता को प्रभावित  भी करता है ! क्युकी मनुष्य की पहचान उसकी एक खूबी को लेकर नहीं बल्कि उसके सभी पहलुओ को लेकर की जाती है !
                                                    सचिन के धुवांधार बलेबाज़ी ने लोगो के दिलो मै क्रिकेट के प्रति लगाव को और अधिक बढावा दिया है ! समय - समय पर उनके प्रदर्शन को देखते हुए उनके साथी खिलाडियों ने उन्हें खुबसूरत टिप्णियो से भी नवाज़ा है ! एक बार डान ब्रेडमेन ने कहा था ................सचिन को दूरदर्शन मै खेलते देखकर मुझे लगता है जेसे मै ही खेल रहा हु !इसी तरह सर गिरफिल्ड सोबर्स ...............ने उन्हें दुनिया के महानतम खिलाडियों से नवाज़ा था ! उन्होंने कहा था ...............मैने बहुत से तेंदुलकर देखे , लेकिन उनमे से ये बेस्ट है ! सचिन को क्रिकेट का भगवान पहली बार........... बेरी रिचर्ड्स ने कहा था !
                             वन डे मै 46 सेंचुरी और सबसे ज्यादा रन ! टेस्ट मै 50 सेंचुरी  और सबसे अधिक रन सच मै किसी का किसी के प्रति जूनून और हिम्मत ही ये सब कमाल करवा सकती है ! जब विव रिचर्ड्स............. जेसा महान खिलाडी ये कह सकता है की मै सचिन को टिकट लेकर भी खेलते देखना चाहूँगा तो इससे बड़ी बात क्या हो सकती है ! उन्होंने सचिन को 99.5% परफेक्ट बताया था ! ये सभी बाते सचिन को सबसे हटकर एक अलग पहचान दिलाती है !
सचिन के शतको  का सफ़र ........................................
   
पहला शतक ........119 रन .........इंग्लैंड ...........14 अगस्त 1990 .........मेनचेस्टर
10 वां शतक ........117 रन .......इंग्लैंड ..............5 जुलाई 1996 ................नाटिघम
20 वां शतक ........126 रन .......न्यूज़ीलैंड .........13 ओक्टुबर 1999 ...........मोहाली
30 वां शतक ........193 रन ........इंग्लेंड ...........23 अगस्त 2002..............लीडस
40 वां शतक ........109 रन .......ओस्ट्रेलिया ......6 नवम्बर 2008 ............नागपुर
50 वां शतक ........107 रन .......दक्षिण अफ्रीका .........19 दिसम्बर 2010........ .सेंचुरियन
                                                  तो ये था हमारे महान बल्लेबाज़ मास्टर ब्लास्टर सचिन  तेंदुलकर की जिंदगी का एक शानदार सफ़र जो आज भी जारी है ! उनका ये जूनून आज की उभरती  नोजवान पीड़ी  को अपना सफ़र जारी रखने मै हिम्मत और ताक़त की याद दिलवाती रहेगी और उन्हें भी सचिन की तरह उँचइयो को छु सकने का रस्ता बताती रहेगी ! वो उनके  इस एहसास को बनाये रखएगी की ....................
                                 कदम चूम लेती है खुद आके मंजिल !
                                 अगर राही खुद अपनी हिम्मत न हारे !!       
           

6 comments:

  1. गज़ब का खिलाड़ी ! पर एक अच्छी खिलाड़ी भावना रखने वाला भी !

    ReplyDelete
  2. sachin is ''great ''.you have written a very good article .congrats .

    ReplyDelete
  3. i am very very thankful to all of you friends

    ReplyDelete
  4. इस सदी के महानायक को हमारा सलाम...

    ReplyDelete
  5. ब्लॉग जगत में पहली बार एक ऐसा सामुदायिक ब्लॉग जो भारत के स्वाभिमान और हिन्दू स्वाभिमान को संकल्पित है, जो देशभक्त मुसलमानों का सम्मान करता है, पर बाबर और लादेन द्वारा रचित इस्लाम की हिंसा का खुलकर विरोध करता है. जो धर्मनिरपेक्षता के नाम पर कायरता दिखाने वाले हिन्दुओ का भी विरोध करता है.
    इस ब्लॉग पर आने से हिंदुत्व का विरोध करने वाले कट्टर मुसलमान और धर्मनिरपेक्ष { कायर} हिन्दू भी परहेज करे.
    समय मिले तो इस ब्लॉग को देखकर अपने विचार अवश्य दे
    देशभक्त हिन्दू ब्लोगरो का पहला साझा मंच - हल्ला बोल
    हल्ला बोल के नियम व् शर्तें

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...