Saturday, December 18, 2010

देश के गृह मत्री की पुकार प्लीज़ हेडली से मिला दो

दोस्तों विश्व की परमाणु शक्ति कहे जाने वाले मेरे भारत देश की शक्ति विश्व स्तर पर मेरे देश के नेता ओर खासकर गृहमंत्री किस तरह से विदेशी ताकतों के आगे अपने अधिकार के लियें गिडगिडा कर कम कर रहे हें इसका खुलासा विक्लिंक्स वेबसाईट ने किया हे ।
विक्लिंक्स वेबसाईट ने कहा हे के देश में मुंबई हमले के लियें ज़िम्मेदार और देश में हुई कई आतंकवादी घटनाओं का सूत्रधार हेडली जब अमेरिका में पकड़ा गया तो सभी तथ्य होने के बाद भी देश के गृह मंत्री उसे देश में सजा देने के लियें लाने में ना कामयाब रहे और आखिर में गृहमंत्री ने सभी मान मर्यादाएं त्याग कर राजनितिक स्टंट के चलते अमेरिका के आगे घुटने टेक कर गिडगिडाना शुरू कर दिया के हमें हेडली दे दो प्लीज़ हेडली नहीं दो तो बात करा दो प्लीज़ गृह मंत्री ने तो यहाँ तक कहा के बस हमे तो बात करा दो चाहे हेडली कुछ कहे या नहीं कहे , दोस्तों एक हमारे भारत के गृह मंत्री ने गिडगिडा कर देश के आतंकवादी को माँगा हे और नहीं देने पर कोई कार्यवाही नहीं की उलटे अमेरिका के राष्ट्रपति को देश में बुला कर ससम्मान जाने दिया एक अमेरिका था जिसने अफगानिस्तान से पहले ओबामा माँगा और नहीं देने पर अमेरिका ने अफगानिस्तान और इराक को ठस नहस कर दिया ताकतवर देश इसे कहते हें अब आप खुद ही सोचें हमारी परमाणु शक्ति होने के बाद भी अगर हमें हमारे वाजिब हक के लियें अमेरिका के आगे गिडगिडाना पढ़े , कुत्ते की तरह दुम हिलाना पढ़े तो फिर हमारी देश की जनता और सेना का मनोबल केसे बढ़ सकेगा क्या देश के मान सम्मान को अमेरिका के आगे गिरवी रखें वाले नेताओं को पद पर रहें का हक हे आब तो आप ही बताये प्लीज़ के देश को क्या करना चाहिए । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...