Thursday, December 16, 2010

चोर इंजीनियर का स्टिंग किया और मर गया

कोटा के एक बढ़े ठेकेदार अजय गुप्ता ने नगर विकास न्यास के एक अधिशासी अभियंता जो बिजली विभाग का काम देख रहे थे उने द्वारा काम देने और भुगताने करने के मामले में रिश्वत मांगने की बातें टेप कीं और रिश्वत देते हुए और अभियंता द्वारा रिश्वत लेते हुए वीडियों बनाई खुद के लेबटोप में उसे रिकोर्ड कर सेव किया और फिर ठेकेदार जी इस सारी जानकारी को सीडी के साथ एक लिफ़ाफ़े में रख कर भ्रस्ताचार निरोधक विभाग को भेज कर दिल्ली चले गये । ठेकेदार अजय गुप्ता दिल्ली में खुद की निजी कार से गये थे उनकी लाश संदिग्ध हालत में एक नाले में पढ़ी मिली उनका सामान गायब मिला जिसे पुलिस ने बाद में दो लोगों को गिरफ्तार कर बरामद किया नाले में पही लाश को पुलिस ने पहले हत्या माना फिर अब पुलिस उसे आत्म हत्या मान रही हे एक व्यक्ति ने खुद को मार कर क्या कभी नाले में फेंका हे ऐसा कोई द्र्स्तांत देश या इश्व के किसी भी कोने में देखने को नहीं मिला हे लेकिन दिल्ली पुलिस हे के मानती ही नहीं । पुलिस का कहना हे के ठेकेदार जी कर्जे में डूबे हुए थे उनकी दस करोड़ रूपये की इंश्योरेंस पालिसी थी इसलियें घरवालों को मरने के बाद इंश्योरेंस की राशी दिलाने के लियें ठेकेदार जी ने आत्म हत्या की हे अब जब ठेकेदार जी की शिकायत भ्रस्ताचार निरोधक विभाग तक पहुंची हे तो जान्च का बिंदु वापस से हत्या की तरफ मूढ़ गया हे सब जानते हें के एक ठेकेदार जब इंजीनियर को रिश्वत देकर फिल्म बना रहा हे तो वोह आत्म हत्या क्यूँ करेगा और वोह भी खुद आत्म हत्या करके खुद की लाश नाले में केसे गिराएगा लेकिन दिल्ली पुलिस और इंश्योरेंस के इन्वेस्टिगेटर हें के कुछ भी कह देते हें कुछ भी लिख लेते हें । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

1 comment:

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...