Saturday, December 18, 2010

कलम का सिपाही -2 कविता प्रतियोगिता में भाग लें.

कलम का सिपाही कविता प्रतियोगिता एवं निबंध प्रतियोगिता-2010 के बाद हिन्दुस्तान का दर्द आपके लिए लेकर आया है कलम का सिपाही -2 यह भी एक कविता प्रतियोगिता है ,इस प्रतियोगिता का मकसद भी होगा हिंदी की सेवा,दोस्तों हिंदी की रक्षा करना हर हिन्दुस्तानी का फर्ज है और हिंदी की रक्षा करना मतलब खुद पर गर्व करना है,तो दोस्तों खुद पर गर्व करो और हिंदी की रक्षा करो..तब तक हिंदी बोलो जब तक कोई आपकी बात सुनने पर मजबूर न हो जाए,उसके सामने हिंदी बोलो जो हिंदी को छोटा मानता है. आइये बात करते है प्रतियोगिता की,

कलम का सिपाही -2 प्रतियोगिता जिसके अंतर्गत लेखक अपनी कविताएँ हम तक पहुंचा सकते है कविता किसी भी विषय पर आधारित हो सकती है लेकिन एक लेखक की केवल एक की कविता मान्य है. कविता प्रतियोगिता के किन्ही दो विजेताओं को 1000 रुपए की किताबों से पुरुस्कृत किया जायेगा,इस प्रतियोगिता को लेकर कुछ बहुत कम से नियम बनाएँ गए है जिनके अंतर्गत आप अपनी कविता हम तक भेज सकते है. कविता भेजने की अंतिम तिथि - 10 जनवरी 2011 है.

नियम-
     
१.आपकी कविता अपमानजनक, संतर्जक, आक्रामक, निंदात्मक, किसी की प्रतिष्ठा को चोट पहुंचाने वाला या ऐसा कोई कन्टैंट जो की अनुचित, धृष्ट, अश्लील, निंदा करने वाला, प्रताड़ित करने वाला, मिथ्यावादक, किसी भी तरह से भेदभावपूर्ण, या घृणा फैलाने वाला अथवा किसी व्यक्ति या समूह को हानि पहुंचाने वाला, या फिर प्रतियोगिता के प्रसंग या स्वभाव के अनुपालन में ना आने वाली नहीं होना चाहिए.

2 .आपकी कविता मौलिक होनी चाहिए.


3 .कविता के साथ अपना परिचय,फोटो सहित प्रस्तुत करें एवं कोशिश करें की कविता यूनीकोड में हो साथ ही विषय के रूप में प्रतियोगिता का नाम लिखें.  


4 . प्रतियोगिता साइट में किसी भी तरह की कमी आने, देरी होने, नुकसान, गलत निर्देश, अपूर्ण, अस्पष्ट, प्रतियोगिता में न पहुंचने या सिस्टम में कमी अपने के कारण निबंध के नष्ट होने, फेल होने, अपूर्ण या कंप्यूटर पर ठीक से न दिखना, दूरसंचार प्रणाली में अन्य कोई कमी आने, किसी भी तरह के हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर में कमी आने, नेटवर्क कनेक्शन के बंद होने या न मिलने, टाइपिंग या किसी तरह की मानवीय/प्रणाली त्रुटियों और विफलताओं, टेलीफोन नेटवर्क या लाइन, केबल कनेक्शन, सेटेलाइट ट्रांसमिशन, सर्वर और सेवा प्रदाता या कंप्यूटर उपकरण में किसी तरह की कमी आने, इंटरनेट पर या प्रतियोगिता साइट पर ट्रेफिक या इनमें से किसी के संयोजन, अन्य दूरसंचार, केबल, या डिजिटल और सेटेलाइट में कोई कमी के चलते यदि कोई प्रतियोगी प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पाता है तो इसके लिए प्रतियोगिता चलाने वाली कंपनी किसी भी तरह से जिम्मेदार नहीं होगी.

कविता भेजने के लिए इस पते ईमेल करें.
mr.sanjaysagar@gmail.com

किसी भी जानकारी के लिए फ़ोन करें-
+ 91-9907048438



   

4 comments:

  1. very nice..

    mere blog par bhi sawagat hai..
    Lyrics Mantra
    thankyou

    ReplyDelete
  2. bahut aachha saarthak sarahaniya prayas ke liye aabhar

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर प्रयास। मैने तो अपनी कविता भेज भी दी है। कभी मेरे ब्लाग पर भी पधारें। धन्यवाद।

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...