Tuesday, December 14, 2010

राहुल के निकटतम जितेन्द्र के दादा गांधी की हत्या में शामिल थे

देश के कोंग्रेस के युवा सम्राट के निकटतम मित्र और विशेष सलाहकार अलवर के महाराजा डोक्टर जितेन्द्र सिंह के दादा अलवर के पूर्व महाराजा तेजसिंह गाँधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के सहयोगी थे और उन्हें इस मामले में नजर बंद भी किया गया था । अलवर के महाराजा का यह सच किसी विपक्ष में बेठे व्यक्ति ने नहीं बताया हे बलके राजस्थान सरकार के दो वर्ष की उपलब्धी मामले में प्रकाशित पुस्तक अलवर जिला दिग्दर्शन में इस मामले का रहस्योद्घाटन किया गया हे ।
कल अलवर में प्रभारी मंत्री और यातायात मंत्री ब्रिज किशोर शर्मा ने जब इस पुस्तिका का विमोचन किया और अलवर के पूर्व महाराजा जो कोंग्रेस सांसद और राहुल गाँधी के अति विश्वसनीय निकटतम डोक्टर जितेन्द्र सिंह के दादा स्वर्गीय तेज सिंह के इस प्रकाशित रस्योद्घाटन जिसमे महाराजा तेजसिंह और अलवर के प्रधान मंत्री ऍन वी खरे को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या के षड्यंत्र में शामिल होना बताया गया हे और इस आरोप में इन दोनों को नजरबंद भी किया गया था के बारे में जब प्रभारी मंत्री जी से पूंछा गया तो मंत्री जी ने अलवर की भूमि पर ही सीधे जवाब दिया के किताब में छपा हे तो सच ही होगा । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...