Tuesday, September 21, 2010

कुदरत

    Water Effect Graphics and Scraps  जिस अंदाज से सूरज की तपन ने धरती को जलाया जी भर के !
बारिश की बूंदों ने भी उसमे मरहम लगाया जी भर भर के !
दोनों के इस खेल मै सारी दुनिया को जो सताया जी भर के !
 दोनों की लुका झिपी का मज़ा भी तो सबने लिया जी भर के!
अगर सूरज की तपन अपना रंग यु न दिखा पाती इस कदर !
तो बारिश की बुँदे भी अपना कमाल केसे दिखा पाती इस कदर !
इसलिए  तो हर जूनून का एक अलग ही मज़ा है संसार मै !
अगर एक भी हमसे झूट जाये तो ज़िन्दगी एक  सजा है !     
इसलिए कुदरत के इस खेल का तुम जम के मज़ा लो !
सूरज का करो स्वागत हरदम और बारिश का मज़ा लो ! 
                                           

1 comment:

  1. सूरज का करो स्वागत हरदम और बारिश का मज़ा लो

    -बहुत खूब!

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...