Thursday, September 9, 2010

कुछ ऐसे बरसी थी असमान से मौत

लंदन.फिलहाल ब्रिटेन किसी तरह के युद्ध की चपेट में नहीं है, ऐसे में वहां के खास शहरों पर बमबारी की ये तस्वीरें देखकर आश्चर्य होता है। टोटल वार की 70वीं सालगिरह के मौके पर ये खास तस्वीरें तैयार की गई हैं। इनमें द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान 1940 में ब्रिटेन के जिन स्थानों पर बम गिरे थे, उन्हें आज की स्थिति में दिखाया गया है। 1940 की तस्वीरों को आज की तस्वीरों से मिलाकर ये तस्वीरें तैयार की हैं।

एक में आप देख सकते हैं कि कितनी खूबसूरती से लंदन स्थित बैंक ऑफ इंग्लैंड के पास हुए बड़े से गड्ढे को दिखाया गया है। ये देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह युद्ध कितना खतरनाक रहा होगा और किस तरह का असर लंदनवासियों पर पड़ा होगा।

लंदन जैसा ही हाल ब्रिटेन के तमाम अहम शहरों का था। बैकग्राउंड में हादसे की जगह के पास सूट-बूट पहने लोग चर्चा करते हुए दिखाई दे रहे हैं। वहीं साइड में ये इमारतें आज की स्थिति में दिखाई दे रही हैं। तस्वीरों के इस हिस्से में आधुनिक कपड़े पहने लोग देखे जा सकते हैं।

ब्रिटेन और जर्मनी के बीच 7 सितंबर 1940 से शुरू हुई ये बमबारी 10 मई 1941 तक चली थी। इस बमबारी को द ब्लिट्स कहा जाता है। वैसे तो ब्रिटेन के कई शहरों पर इस दौरान बमबारी हुई थी, लेकिन इसकी शुरुआत लंदन से हुई थी। लंदन पर लगातार 76 रातों तक बम बरसाए गए थे।

इन हमलों में शहर की करीब आधी आबादी खत्म हो गई थी। इसके पीछे हिटलर का खास मकसद था। समुद्री और जमीनी हमले से पहले वह इस तरह ब्रिटेन के हौसले पस्त करना चाहता था। जर्मनी ने ब्रिटेन के शहरों के अलावा बिजनेस हब कहे जाने वाले इंडस्ट्रियल एरियाज को भी निशाना बनाया था।



1 comment:

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...