Thursday, June 3, 2010

फैसल शहजाद हाईब्रिड आतंकी करार





न्यूयॉर्क। अमेरिका के टाइम्स स्क्वायर बम हमले के संदिग्ध और पाकिस्तानी-अमेरिकी नागरिक फैसल शहजाद को हाइब्रिड आतंकी करार दिया जा रहा है। उसने अकेले दम पर अमेरिका के भीतर आतंकी कार्रवाई को अंजाम दिया लेकिन उसने इसकी प्रेरणा तालिबान जैसे बाहरी आतंकी संगठनों से ली।

कई और हो सकते हैं फैजल जैसे

सीबीएस न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे कई और विद्रोही अमेरिकी हो सकते हैं जो देश पर हमला करने का एक मौका तलाश रहे हों। रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ शहजाद के खिलाफ सबूत मिले हैं कि उसने अकेले ही आईईडी लाने, इकट्ठा करने और इसे सौंपने का काम किया। रिपोर्ट में कहा गया है लेकिन यह भी साफ है कि शहजाद को कुछ मदद मिली थी, उसे प्रेरणा, माली मदद और बम हमले का प्रशिक्षण पाकिस्तानी तालिबान से मिल रहा था।

यह भी पाया गया कि पाकिस्तान में हिरासत में लिए गए 15-20 लोगों में से किसी के भी तार एक मई को टाइम्स स्क्वायर बम हमले से जुड़े नहीं मिले। शहजाद ने टाइम्स स्क्वायर में कथित तौर पर कार बम हमले की कोशिश की थी। शहजाद को दुबई फरार होने की कोशिश में जॉन एफ केनेडी हवाईअड्डे पर गिरफ्तार किया गया था।

चार ठिकाने थे निशाने पर

टाइम्स स्क्वायर पर बम हमले की कोशिश यदि कामयाब हो जाती तो शहजाद ने चार और ठिकानों को अपने निशाने पर ले रखा था। इनमें रॉकफेलर सेंटर, ग्रांड सेंट्रल टर्मिनल, दि वल्र्ड फाइनेंशियल सेंटर और रक्षा क्षेत्र के ठेके लेने दो कंपनियां शामिल थीं।

दो बच्चों का पिता शहजाद कॉनेक्टिकट में वित्तीय विश्लेषक का काम करता था और अपनी पत्नी के साथ रहता था। पिछले साल की आर्थिक मंदी से दौरान शहजाद की निजी और पेशेवर जिंदगी में तनाव पैदा होना शुरू हुआ। अपने दो ई-मेल में शहजाद ने मुस्लिम जगत की स्थिति पर अपनी निराशा जाहिर की थी।

मुमकिन है है कि आपराधिक मामले में शहजाद को कॉनेक्टिकट में अपने घर से हाथ धोना पड़े। कॉनेक्टिकट पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक मिलफोर्ड सुपीरियर कोर्ट ने आदेश दिया था कि 31 जुलाई को चेज होम फिनांस एलएलसी का भुगतान नहीं करने पर अभियुक्त 119 लांग हिल अवेन्यू में अपना मकान गंवा बैठेगा।

शहजाद पर आतंकवाद फैलाने की कोशिश करने और जनसंहार के हथियारों का इस्तेमाल करने की कोशिश करने के आरोप हैं। इन मामलों में दोषी करार दिए जाने पर शहजाद को पूरी उम्र जेल में बितानी पड़ सकती है।

पिछले महीने अमेरिका में गिरफ्तार किए गए तीन अन्य पाकिस्तानी नागरिक टाइम्स स्क्वायर में आतंकी हमले की नाकाम कोशिश में आरोपी नहीं हैं। उन्होंने शहजाद को पैसे दिए थे लेकिन उन पैसों का इस्तेमाल कहां होना था, इसके बारे में उन्हें मालूम नहीं था।

बोस्टन के वॉटरटाउन इलाके से 13 मई को 43 साल के टैक्सी ड्राइवर पीर खान को उसके एक रिश्तेदार आफताब खान के साथ गिरफ्तार किया गया था। उन पर आव्रजन नियमों के उल्लं:ान का आरोप था। बोस्टन ग्लोब की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को एक आव्रजन न्यायाधीश ने कहा कि पीर खान 1991 से ही अमेरिका में अवैध रूप से रह रहा है लेकिन उसे देश से बाहर किए जाने के बारे में फैसले को अगस्त तक टाल दिया गया।

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...