Friday, April 16, 2010

लो क सं घ र्ष !: बर्बरता की हद

आज जिला एवं सत्र न्यायधीश के परिसर में राम मिलन नामक युवक ने अपनी 22 वर्षीय पत्नी मधु की नाक दांत से काट कर अलग कर दीबुद्धजीवी तबके के लोगों ने राम मिलन को पीट-पीट कर अधमरा कर दियापुलिस पहुंची तो उसने वाद में गंभीरता लाने के लिए एक चाक़ू की फर्जी बरामदगी कर दीपति-पत्नी का वाद न्यायलय में विचाराधीन हैपुरुषवादी मानसिकता के तहत राम मिलन ने दसवीं सदी के अपराध को कर डाला वहीँ बुद्धजीवी कहे जाने वाले तबके ने उसी सोच के तहत राम मिलन को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया और पुलिस जैसा प्रत्येक मामले में वह करने की आदि है, मनगढ़ंत तथ्यों के आधार पर एक नए वाद की तैयारी शुरू कर दी है
सभ्य एवं लोकतांत्रिक समाज में तीनो पक्षों की हरकतें तो नैतिक हैं और ही विधिक हैंइस तरह से आये दिन कुछ कुछ होता रहता है जो बर्बरता की हद को पार कर रहा हैइन सब कृत्यों की जितनी भी निंदा की जाए वह कम है

सुमन
loksangharsha.blogspot.com

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...