Monday, December 21, 2009

Christmas and New Year Special

Dear Friends,

 

अब की सेंटा क्लॉज़ गांव में मेरे आना,
क्रिसमस डे इस बार हमारे साथ मनाना।

 

A beautiful poetry by Sh. Kashmir Singh. 

 

 

Please click to read more

 

Editor
The Saharanpur Dot Com

w |  www.thesaharanpur.com

E   |   info@thesaharanpur.com

M | +91 9837014781

 

 

 

1 comment:

  1. आपकी कविता बहुत अच्छी लगी. आपकी सांता को गुजारिश अपने गाँव में बुलाने की, और हर एक के लिए कुछ मांगना,अच्छा लगा .अरे हम गरीबों के लिए भी कुछ माँगा होता तो ज्यादा अच्छा होता.टिपण्णी के लिए ब्लॉग पर कोई जगह नहीं मिली सो यहाँ पर डाल दी है क्षमाप्रार्थी हूँ

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...