Wednesday, August 12, 2009

तो बच्चे को माफ़ कर देना॥

ख़त पढ़ने के पहले ॥
लिखने वाले का नाम लेना॥
उलटा सीधा अगर लिखा हो॥
तो बच्चे को माफ़ कर देना॥
ये प्यार का पहला ख़त लिखा है॥
चुग चुग के शव्दों को सजाया॥
प्रेम की प्यारी स्याही से॥
ढूढ़ ढूढ़ के शव्द मिलाया ॥
पुष्प कलि हमराही से॥
अगर भाव में कही हो गड़बड़॥
तो बच्चे को माफ़ कर देना॥
ये प्यार का पहला ख़त लिखा है॥
प्रेम कहानी पढ़ पढ़ करके ॥
हमने उसको इन शव्दों में ढाला॥
हर लकीर में नाम तुम्हारा॥
तुम्हे लिखा चाहने waalaa॥
इसमे कोई नंगा पण हो ॥
तो बच्चे को माफ़ कर देना॥
ये प्यार का पहला ख़त लिखा है...

2 comments:

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...