Thursday, August 13, 2009

सितारे गीत गायेगे..

चौराहे पर बैठो गे॥
तो नजारे नज़र आयेगे॥
कुछ पूरब को जायेगे॥
कुछ पशिचम को जायेगे॥
कुछ धुंधले हो जायेगे॥
कुछ पास चम्चामायेगे॥
कुछ करेगे इशारे॥
कुछ हसी बिख्रायेगे॥
कुछ तो हमें अपनाएगे॥
कुछ तो उसे ठुक्रायेगे॥
बहेगी प्यार की गंगा॥
सितारे गीत गायेगे...

5 comments:

  1. आमीन ..ऐसाही हो ! सारा भूमंडल ..सारा आकाश गीत गए ..बहे सुर इक मिला जुला, आकाशगंगा से ..!

    http://shamasansmaran.blogspot.com

    http://kavitasbyshama.blogspot.com

    http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot.com

    http://shama-kahanee.blogspot.com

    ReplyDelete
  2. आमीन ..ऐसाही हो ! सारा भूमंडल ..सारा आकाश गीत गाए ..बहे सुर इक मिला जुला, आकाशगंगा से ..!

    ReplyDelete
  3. वाकई चौराहे पर बैठ कर मिलते हैं अजब ही नजारे

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...