Thursday, August 27, 2009

झोलाछाप डाँ की करतूत


अभी साधना न्यूज़ सीडी मामला शांत भी नहीं हुआ की फिर से राजधनी को एक सीडी मामले ने गरमा दिया इस बार करतूत एक डाँ की थी वही डाँ जो भगवान तुल्य होता है और विश्वाश इंतना की कई बार अन्दुरुनी बाते भी उन्हें बतानी पड़ती है कहते है की डाँ और वकील से कुछ नहीं छुपाना चाहिए वर्ना नुकसान अपना ही करेगे पर अब ऐसे डाँ भी देखने मिल रहे है जिनसे बात तो क्या उनकी नजरो से भी ओरतो को बचा के रखना पड़ेगा . छत्तीसगढ , राजधानी रायपुर से समीपस्थ अडसेना [ सारागांव ] में एक ऐसा ही मामला सामने आया है पुलिस ने गाँव में संचालित निजी किलिनिक में छापा मार दो लोगो को गिरफतार किया विगत ११ साल से डाँ के पेशे से जुडा यह व्यक्ति झोला छाप डाँ बताया जा रहा है . कम्पूटर , कैमरा , पेन ड्राइव और तकनिकी संसाधनों से लैस यह डाँ महिला मरीजो को इलाज के बहाने बुला उनकी अश्लील रिकार्डिंग करता था . आरोपी डाँ और उसका भाई इस काम में लिप्त बताये जा रहे है .ब्राम्हणपारा निवासी डाँ आशीष शर्मा पर गाँव वालो को उस समय शक हुआ जब एक लड़की को अपने किलनिक बुलवाया जो सरपंच तेजपाल की बेटी थी पिता को शक होते ही पुलिस को सुचना पश्चात् हैरत में डालने वाले तथ्य सामने आये जाँच में आरोपी डाँ के कंप्युटर में से बहुत से महिला मरीजो की अश्लील फिल्म बनी बरामद हुई जिससे सभी हैरत में पड़ गए
बहरहाल बड़े नर्सिंग होम और डाँ को छोड़ कर झोलाछाप डाँ पर कार्यवाही कर पुलिस अपनी पीठ खुद ही थपथपा रही है , हाल ही में एक और नर्सिंग होम में कार्यरत कर्मचारी द्वारा चेंजिंग रूम में कैमरे से अश्लील रिकार्डिंग की घटना के बाद अब ये दूसरी घटना है जिसमे डाँ पेशा , और नर्सिंग होम भी अश्लील फिल्म बनाने की वारदातों से जुड़ते नजर आ रहे है गौरतलब बात यह भी है की छत्तीसगढ के सुदूर वनाच्लो , बीहड़ जहा वैसे ही सरकार और अस्पताल कम ही दिखाई पड़ते है और सरकार का बेहतर स्वास्थ सेवाए उपलब्ध करने का दावा सिर्फ विजापन तक ही सिमट जाता है , वहा ग्रामीण इन्ही झोलाछाप डाँ की मदद से स्वास्थ सेवा लेते थे . हाल ही में सरकार ग्रामीणों को इन्ही झोलाछाप डाँ के बलबूते बेहतर स्वास्थ सेवा मुहैया करने के सब्जबाग दिखा रही थी अब वो भी बिखरता नजर आ रहा है झोलाछाप डाँ से शोसित ग्रामीणों के बिखरे विश्वाश को सरकार पुनः बना ग्रामीणों को कैसे स्वास्थ सेवा मुहैया करायेगी ये सरकार के लिए चुनौति से कम नहीं

1 comment:

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...