Monday, June 22, 2009

जवाहर लाल नेहरू और लेडी माउंटबेटन


लोग कहते हैं इस लव स्टोरी ने भारत के इतिहास को प्रभावित किया है। लेडी माउंटबेटन की बेटी पामेला ने अपनी एक किताब में लिखा है कि दोनों के बीच रुहानी संबंध था। साथ ही वह यह भी कहती हैं कि कई बार मेरी मौजूदगी उन दोनों के लिए असहजता की स्थिति पैदा कर देती थी। दोनों घंटों तक कमरे में अकेले रहते थे। लॉर्ड माउंटबेटन भी दोनों को अकेला छोड़ देते थे। लेकिन यह साबित कोई नहीं कर पाया कि दोनों में शारीरिक संबंध थे। वैसे कुछ चीजें साबित करने के लिए नहीं होती।


आगे पढ़ें के आगे यहाँ

3 comments:

  1. इन सब बातों में क्या चित्त डालना। अब आगे बढ़ें और देश को कैसे आगे बढ़ाएं इस पर विचार करें।

    ReplyDelete
  2. सही कहा ,कुछ चीजे साबित करने को नही होती। इन बातों में चित्त डालने से ( यदि वे राष्ट्रीय महत्व की हों ),यह होता है कि लोग आगे के लिये सम्भल जायें।

    ReplyDelete
  3. there are some spelling mistakes

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...