Saturday, May 9, 2009

प्यार, नफरत और आतंक का खूनी खेल

हिजबुल मुजाहिदीन के एक आतंकी ने मनपसंद लड़की का विवाह कहीं ओर हो जाने से खफा होकर उसके पति सहित तीन लोगों की हत्या कर दी।
हिजबुल का आतंकी इश्फाक जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले की माहौर तहसील स्थित देवल इलाके की रहने वाली एक लड़की से प्यार करता था। उसने इसका कई बार इजहार किया, लेकिन हर बार इनकार मिला।
लड़की की मां ताजा बेगम ने भी इस शादी से मना कर दिया। चार दिन पहले बेगम ने बेटी की शादी स्थानीय युवा व्यवसायी एजाज के साथ शादी कर दी।
इससे खफा होकर बुधवार रात चार आतंकियों के साथ आए इश्फाक ने अंधाधुंध गोलियां चलाकर पहले ताजा बेगम की हत्या की और फिर लड़की के सामने ही उसके पति एजाज व ससुर की हत्या कर दी।
आतंकियों ने गांव वालों को चेतावनी दी कि अगर किसी ने उनके फरमान को नहीं माना तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। इसके बाद वे रियासी के जंगलों में फरार हो गए।
गौरतलब है कि जहां वारदात हुई वह दूरदराज का इलाका है और वहां सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त भी नहीं हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने आतंकियों की तलाश में व्यापक अभियान छेड़ दिया है।


आगे पढ़ें के आगे यहाँ

4 comments:

  1. आदरणीय सागर जी, आपका ब्लॉग वैचारिक और भावपूरण है. रूचिकर और पठनीयता से भरपूर. साधुवाद.

    ReplyDelete
  2. police ne abhiyan bhale hi chhed diya ho, par mujhe nahi lagta wo unhe unke mukam tak pahuncha payegi.. yani salakho ke peeche.......

    ReplyDelete
  3. दोस्त आपने बहुत ही ज्ञान्बर्धक और चिंतन यौग्य जानकारी दी सुक्रिया !

    ReplyDelete
  4. kori baqwas hai ye aisee koi news nahi hai

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...