Wednesday, April 1, 2009

मायावती chalishaa

दोहा: जय जय मायावती जगदम्बे का रूप //लाज राखियो जगत की आए कोई न भूप
चौपाई: जय जय माया महारानी /तुम्हारी लीला न जाय बखानी//
तुम्हारा नाम जपे दलित जन सारा / तुम उनके हो तारण हारा
सब तुम्हारी ही करे बड़ाई / तुम हो उनकी काली माई
तुम गुन्दन का करिव खिचाई / अपराधिन का जेल पठाई
जो दलितन से करे लडाई / उसकी अच्छी करो खिचाई
ऊंच नीच अस गुंडे सारे / तुम उनका कीन्हा पिछवारे
जीतनी रही फौज धन सारा / तुम उनका सब दिन बिगारा
उनकी धुस माती में कीन्हा / उनसे छीन तलब भी लीन्हा
पहले जो थे अत्याचारी / उनकी आय गई बलिहारी
अब वे सब न करे लडाई / सब से करते मेल मिलाई
ऐसे राज्य चले का चाही / फ़िर जनता का चिंता नाही
हमारी एक विनय है माया / हमारे ऊपर कर दो दाया
दियो कही नौकरी दिलायी / तुम्हारे गुन हम जीवन भर gaayi
तुम जनता का karaw bhalayee / sabase rakhou mail मिलाई
तुम्हारी kurshi फ़िर जाय न पाये / सब की jamaanat jabt होई जाए
सदा karav जनता कई sewaa / सब का milay dudh au mewaa
दोहा: जय जय माया वती सदा karaw kalyaaN उत्तर pradesh की जनता का haradam rakhanaa dhyaan:

3 comments:

  1. बहुत खूब लिखा है

    ReplyDelete
  2. संजय जी,मजा आ गया

    ReplyDelete
  3. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...