Monday, April 27, 2009

एक रात के संबंध में बच्ची बनी मां

दिया भागवत
लंदन. जिस उम्र उसे बच्चों के साथ खेलना चाहिए था, वह आज खुद एक बच्चे की मां बन गई है। ब्रिटेन में बारह साल की एक लड़की ने एक बच्चे को जन्म दिया है। इस लड़की ने दो माह पहले ही बारह वर्ष पूरे किए हैं।
प्राइमरी स्कूल की इस छात्रा ने अपनी उम्र से काफी बड़े लड़के के साथ शारीरिक संबंध बनाए थे। इस लड़की और बच्चे की देखभाल कर रहे लोगों का कहना है कि लड़की ने यह गलती सिर्फ एक ही बार की है। और इसी दौरान उसे गर्भ ठहर गया।
पेट में हुआ दर्द तो पता चला
लड़की और उसके परिवार को शुरू में घटना की कोई जानकारी नहीं थी। लेकिन जब उसे पेट दर्द की जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया तो पूरा मामला सामने आया। लड़की को काफी उल्टियांभी हुई। जांच के बाद पता चला कि लड़की के पेट में गर्भ पल रहा है। उसे इस बात की बिलकुल आशा नहीं थी। जांच के बाद उसने एक बेटे को जन्म दिया।
काफी गरीब है लड़की
यह लड़की काफी गरीबी है। ब्रिटेन के दक्षिण-पश्चिम के एक इलाके में रहने वाली लड़की का घर जगह-जगह से टूटा हुआ है। सामाजिक संस्था के लोग उसकी मदद के लिए आगे आएं हैं। लेकिन फिर भी पैसे की कमी बनी हुई है।
बढ़ रहे हैं ब्रिटेन में ऐसे मामले
ब्रिटेन के लिए यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जहां कम उम्र के बच्चे सेक्स कर के अपने और अपने परिवार वालों के लिए मुसीबत खड़ी कर देते हैं। ब्रिटेन में बच्चे ही बच्चों को जन्म दे रहे हैं। दुनिया भर में अमेरिका के अलावा ब्रिटेन में 16 वर्ष से कम उम्र में बच्चों को जन्म देने की दर सबसे ज्यादा है।
आगे पढ़ें के आगे यहाँ

5 comments:

  1. अच्छा लगा आपने हिन्दुस्तान का दर्द पर अन्य देश का दर्द रखा
    लेकिन इस तरह की घटना से हम क्या समझे की समाज क्या सचमुच बहुत ही आधुनिक हो गया है

    ReplyDelete
  2. इस .पोस्ट से अपना क्या वास्ता...मेरे ख्याल से हिन्दुस्तान के और बहुत दर्द है...!वैसे घटना काफी कुछ सोचने को विवश करती है...

    ReplyDelete
  3. इस रिपोर्ट में हिंदुस्तान का दर्द कहाँ है ,हम जरुर जानना चाहेंगे ?अगर ये पाठकों की यौन कुंठाओं को जागृत करने की कोशिश है ,तो खेद है |अगर ये मनोरंजन के लिए है तो भी खेद है अगर ये ब्रिटेन की हकीकत बताने की कोशिश है ,तो शायद इस फोरम पर इसकी जरुरत नहीं है ,दिया जी विद्वान और संवेदनशील हैं आशा है आगे से कुछ दर्द और देसी धूप छाँव भी पढने को मिलेगी

    ReplyDelete
  4. behtareen mazmoon aapne hmare saamne pesh ki jiske madyam se hum hindustaniyon me jagrookta ki lahar daude taaki aane wali generation ko maloom ho ki physical sex ki ek umr ki seema hoti hai aapne ek achcha lekh likha hai likhte jayiye....

    ReplyDelete
  5. jab ham sancgar ke vrihat swarup ki or aankh uthate hain to pata chalta hai ki, aj koi bhi ghatna viswa ke kisi kone mein ghati ho, ka prabhav viswavyapi ho gaya hai. kya realistic movement, war of roses, industrial revolution ya George 1 ki ghatna ka prabhav duniya par nahi pada.
    ya ghtna nischay hi human psycology ko samjhne mein sahayak hai, aur samj ke patan ko rekhankit karti hai..

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...