Wednesday, April 1, 2009

वे मायावती से डरते क्यों हैं ?

पंकज श्रीवास्तव
इन दिनों जारी राजनीतिक गहमा-गहमी के बीच तमाम लोग एक अजब समस्या से जूझ रहे हैं। उन्हें डर है कि अगली लोकसभा के त्रिशंकु होने पर कहीं जोड़-तोड़ करके मायावती प्रधानमंत्री की कुर्सी तक ना पहुंच जाएं। ऐसा सोचने वालों में सिर्फ राजनीतिज्ञ नहीं, बुद्धिजीवी, पत्रकार और जनता का एक मुखर भी हिस्सा है। हाल ये है कि एक सर्वे के जरिये ये भी बता दिया गया है कि देश की 74 फीसदी से ज्यादा लोगों को मायावती का प्रधानमंत्री बनना पसंद नहीं। उन्हें लगता है कि इससे देश की प्रतिष्ठा घटेगी। ये अलग बात है कि हिंदुस्तान अमेरिका नहीं कि 622 लोगों के बीच हुए ऐसे सर्वेक्षणों के जरिये जमीनी हकीकत का ठीक-ठीक अंदाजा लगाया जा सके। बहरहाल चिंता में दुबले हो रहे इन लोगों की समस्या के निदान के लिए जरूरी है कि मायावती के गुनाह और खतरे को समझा जाए। मायावती को लेकर पहली चिंता...आगे पढ़ें के आगे यहाँ

23 comments:

  1. jo kam koi MARD nahi kar sake ek aurat ne kar dikhlaya.Dub maro o uttar pradesh-Biharwalo kya yahi kam maharashtra gov nahi kar sakti thi?Raj thakre ke samne?
    bolti band kardi Varun ki.pahle to bechare Hindu vote lene surrunder kiya.bad me jab Mayawati ne Datta lagaya to court ki sharan me gaye.
    dhanya ho Mayawati ji.

    ReplyDelete
  2. अच्छा खेल रही है टीम तो यह जायज है

    ReplyDelete
  3. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  4. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  5. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  6. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  7. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  8. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  9. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  10. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  11. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  12. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  13. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  14. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  15. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  16. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  17. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  18. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  19. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  20. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  21. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete
  22. बढ़िया लिखा है जारी रखे!

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...