Saturday, April 18, 2009

जूता चल जायेगा..

नेता जी अपनी रैली में जा रहे थे तो नेतानी जी ने कहा अजी सुनते हो नेता जी ने कहा बोलो" क्या बात नेतानी जी नेता टीका लगाया ओउर उसके बाद बोली बुरा न मनो तो मई भी चली नेता जी बोले मईभी तो सोचा रहा रहा था लेकिन आज कल तो लोग जूता चप्पल चलाते है, इस लिए मई नही तुम्हे ले चल सकता नेतानी जी बोली तो क्या हुआ लोग मारने के लिए थोड़े चलाते है, वे तो जनता को दिखाने के लिए चलाते आज तक किसी नेता को जूता लगा तो नही आप जैसे बचे गे वैसे मई भी बच जाऊगी आख़िर में तो मैसाड़ी जिंदगी लोगो के वार से तो बचाती ही आ रही हूँ, मेरे जाने से आप की रैली में रौनक आ जायेगी ओउर लोग वोट भी देगे क्यो की अभी तक लोगो ने हमें देखा तक भी नही है, नेता जी बोले आप घर पर लोगो को देखो मै बाहर रैली में जा रहा हूँ, पता नही कब जूता चल जाए..

No comments:

Post a Comment

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...