Tuesday, April 14, 2009

टिप्पणीकारों से अनुरोध सार्थक बहस हो

संजय जी और तमाम ब्लॉगर मित्रों ,
मैं लेखन थोथी प्रशंसा पाने के लिए नहीं करता हूँ ।
मेरे लेखन का उद्देश्य सार्थक मुद्दों पर बहस के जरिये जागरूकता पैदा करना है । मैं कोई व्यावसायिक पत्रकार नहीं बल्कि राजनैतिक और सामाजिक कार्यकर्त्ता हूँ और पत्रकारिता को क्रांति का हथियार मानता हूँ ।
इतना सब कहने का मतलब कि पोस्ट पर टिप्पणी करते समय कृपा कर सम्बंधित मुद्दे का ध्यान रखें और केवल दिखावटी तारीफ न करें ।
मसलन , कुछ टिप्पणी जैसे - अच्छा लिखा है, बहुत अच्छा लिखा है, बढ़िया लेखन , शुभकामनाये , आदि । इनसे ऐसा लगता है कि बस बगैर पढ़े कुछ भी लिख दो और चलते बनो । जरा मेरी बात को अन्यथा नहीं लेंगे . --

1 comment:

  1. जयराम जी,मैं आपकी बात सुनकर खुश हुआ की आप लेखन थोथी प्रशंसा पाने नहीं करते.मगर हम भी इस बीमारी के जकडे नहीं है की किसी की थोथी प्रशंसा करें !
    मुझे जो लगा सो अब तक कहा लेकिन अब आगे से आपकी पोस्ट की समीक्षा में अच्छी तरह से करूंगा!
    सुक्रिया !

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...