Monday, March 23, 2009

नेता जी आपकी योग्यता क्या है....

सारांश यहाँ आगे पढ़ें के आगे यहाँ
.चुनाव आते ही चरों और नेता ही .नेता..दिखने लगे है...वे हमेशा की तरह ही नए-नए नारे देंगे,वाडे करेंगे और हमारा वोट हथियाने का हर सम्भव प्रयत्न करेंगे...!चुनावी सीजन में ये स्वाभाविक भी है.....!लेकिन जैसा की एक विज्ञापन में देखा ....एक युवा नेता से उसकी योग्यता पूछता है...उसी तरह जनता को भी चाहिए की वो नेता से उसके कार्यों का हिसाब पूछे....उनकी सुनने की बजाय उन्हें सुनाये....!क्यूंकि यही वो मौका है जब उन्हें आपको सुनना ही पड़ेगा...!बाकी पाँच साल तो आप उन्हें .dhoondhte....रह जाओगे..!आज एक छोटी सी नौकरी के लिए भी हमे कम्पीटीशन देना पड़ता है ...जब की इनके लिए कोई योग्यता निर्धारित नहीं है...!ये काम जनता ही कर सकती है...!नेताओं से उनके भावी वादों आदि के बारे में सवाल करें क्यूंकि ये बेहद..जरूरी है...आप .पूछिए...ये आपका हक है...

4 comments:

  1. राजनीति आजकल नेताओं की बाप की जायजाद बन गयी है जो आता है मुह उठाकर चला आता है देश चलाना क्या इन बच्चों का काम है

    ReplyDelete
  2. सच कहा आपने नेता आजकल राजनीति को घर की बात समझने लगे
    राजनीति मे विस्वास और गंभीरता खोती जा रही है जो चिता का विषय है !

    ReplyDelete

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...