Thursday, March 19, 2009

अवार्ड अंकुरित चिट्टा-२००९ प्रतियोगिता निरस्त,जून माह में पुनः प्रारंभ होगी


जैसा की है सभी लेखकों और पाठकों को ज्ञात है की ''हिन्दुस्तान का दर्द''युवाओं का मंच है,ऐसे युवा जो दिल से युवा है ना की आयु से ! इसलिए ''हिन्दुस्तान का दर्द''ने युवा शक्ति संगठन, भारत के साथ मिलकर अवार्ड अंकुरित चिटठा २००९ प्रतियोगिता का आयोजन किया था !यह आयोजन युवा शक्ति संगठन के निर्देश पर किया गया था!
लेकिन हमें खेद है की लोकसभा चुनावों की बजह से युवा शक्ति संगठन हमारी प्रतियोगिता के मूल्यांकन मे समय नहीं दे पा रहा है!
इस बजह से यह प्रतियोगिता मई अंत तक के लिए निरस्त करनी पड़ रही है,अब हम इस प्रतियोगिता की शुरुआत जून माह से करेंगे!
क्योंकि हम नहीं चाहते की युवा शक्ति संगठन के बिना इस प्रतियोगिता का मूल्यांकन या परिणाम तक किया जाये,क्योंकि ऐसा करने से ''हिन्दुस्तान का दर्द''के निर्णय पर संदेह की स्तिथि पैदा हो सकती है !
इसलिए हम आप लोगों से खेद प्रकट करते है !
आप लोगों के लिए इस प्रतियोगिता का आयोजन अवश्य होगा,तब तक आप अपने चिट्ठे को और अधिक विकसित कर लें!

खेद के साथ.....
संजय सेन सागर
जय हिन्दुस्तान-जय यंगिस्तान
आगे पढ़ें के आगे यहाँ

1 comment:

आपका बहुत - बहुत शुक्रिया जो आप यहाँ आए और अपनी राय दी,हम आपसे आशा करते है की आप आगे भी अपनी राय से हमे अवगत कराते रहेंगे!!
--- संजय सेन सागर

लो क सं घ र्ष !: राजीव यादव की सरकारी हत्या का प्रयास

आजादी के बाद से आज तक के इतिहास में पहली बार भोपाल कारागार से आठ कथित सिमी कार्यकर्ता कैदियों को निकाल कर दस किलोमीटर दूर ईटी  गांव में...